Co Curricular Activities


आईआईएमटी कॉलेज ऑफ़ लॉ  में प्रतिभा फेस्‍ट 2018 का आयोजन

एससी-एसटी एक्‍ट अभी भी उतना ही प्रभावशाली- भंवर सिंह साहिब

 

ग्रेटर नोएडा :एससी-एसटी एक्‍ट मे कोई बदलाव नही किया गया है यह अभी भी उतना ही प्रभावशाली है। एससी-एसटी एक्‍ट का दुरूपयोग रोकने के लिये कोर्ट ने कुछ प्रभावी कदम उठाये है । शांति बनाये रखें और इसको सही रूप से समझे ये बाते इलाहाबाद हाईकोर्ट के पूर्व जज भंवर सिंह साहिब ने आईआईएमटी कॉलेज ऑफ़ लॉ प्रतिभा फेस्‍ट 2018 के उदघाटन पर कही। उन्‍होने कहा कि अनुशासन का जीवन में बहुत महत्‍व है । छात्र-छात्राओं को अपनी मर्यादा में रहकर ही पूरे आत्मविश्वास के साथ लक्ष्‍य की प्राप्‍ती पर ध्‍यान देना चाहिए।           

नॉलेज पार्क 3 स्थित आईआईएमटी कॉलेज ऑफ़ लॉ में प्रतिभा फेस्‍ट 2018 का आयोजन हुआ। फेस्‍ट में बैडमिनटन, रंगोली, एकल ड़ास, ग्रुप ड़ास, एकल गायन एवं फैशन शो का आयोजन हुआ। इसमें आईटीएस, एऩआईयू, रामईश, एफएमजी, दिल्ली विश्वविद्यालय  आदि कॉलेज की टीमें शामिल थी। बैडमिंटन की स्पर्धा में लगभग 120 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। रंगोली प्रतियोगिता में विभिन्न कॉलेजों की 30 टीमों ने भाग लिया।रंगोली प्रतियोगिता में छात्र-छात्राओं ने भारत की सांस्कृतिक धरोहर की विरासत दिखाने के साथ साथ भारत की एकता और अखंडता को पदर्शित करने वाली रंगोली सजायी। ड़ास में नेहा, अंकित , प्रिंस आदि ने अपने ड़ास के द्वारा सभी को तालिया बजाने पर मजबूर कर दिया। एकल ड़ास में एचआईएमटी के मनजीत प्रथम एवं आईआईएमटी के शौर्य प्रताप दूसरे स्‍थान पर रहे। ग्रुप ड़ास में एनआईटी के भुवनेश ग्रुप प्रथम स्‍थान पर रहे। रंगोली प्रतियोगिता में सुनीधी सांनंध प्रथम एवं रिया  दूसरे स्‍थान पर रही।

विशिष्‍ट अतिथि पूर्व एस पी राकेश जौली ने कहा कि जीन्‍दगी का आनन्‍द तो ले पर जोश के साथ पूरे होश में रहें।

आईआईएमटी कॉलेज समूह के प्रबंध निदेशक मयंक अग्रवाल ने छात्र-छात्राओं के प्रयास को सराहा एवं उन्‍हें आगे बढने के लिये प्रेरित किया।और उनको पढाई के साथ साथ सम्‍पूर्ण विकास पर ध्‍यान देने के लिये प्रेरित किया ।

 कॉलेज ऑफ़ लॉ के निदेशक डॉ आर के. सिंहा ने छात्र-छात्राओं से कहा कि कार्यक्रम मे भाग लिजिये और विजेता ,उपविजेता या जिज्ञाशू बनकर निकलिये। उन्‍होंने आये हुए अतिथियों का छात्रों के मार्गदर्शन करने के लिये धन्‍यवाद किया ।

कार्यक्रम को सफल बनाने में उपनिदेशिका डॉ मोनिका रस्‍तोगी ,डॉ धीरेन्द्र सिंह, प्रों प्रमोद कुमार शर्मा एवं डॉ मुनीश कुमार शर्मा आदि ने प्रमुख भूमिका निभाई।

 


Symposium on "Intellectual Property Rights"

IIMT College of Law has organised a symposium on "Intellectual Property Rights" on 20th March, 2018, to have an outlook on the IPR issues in India.


Traffic-Rule Awareness Program By Law Students 

To convince the commoners about the utility of Traffic-Rules for achieving the task of safe journey, the law students of IIMT College of Law, Greater Noida successfully conducted Traffic-Rule Awareness Program at Pari Chowk & Surajpur Crossings of Greater Noida on 22/02/2018under the guidance of Dr. Monika Rastogi and Dr. Munish Kumar Sharma. To address the need of bringing consciousness for traffic-rules among masses as India topped the world-chart in road-accidents, it is moral responsibility of every responsible person to be committed to traffic guidelines. Under the effective direction of Mr. Avinash Saini, Mr. Rajesh, Mr. Chunni Lal ,Traffic Dept. officials, all students not only gained immense theoretical knowledge about traffic-rules but also received practical exposure in traffic-control. 

Later on, these students in three teams of eight students each managed traffic and gave the message about the importance of traffic-rules. In all, twenty four volunteers from both LL.B. & B.A.LL.B. courses participated in this exercise. Amar, Garima, Mamta,Mohit Bhati,Ranjana,Tripti, Vedant, Moni, Rukhsar,Garima Pal,Rachna Sharma, Manikant, Abhishek Tiwari etc. took part in this event. The contribution of Brijesh Bhati and Mohit Sharma is noteworthy in the success of this event.  


Co Curricular Activities

IIMT College of Law has organized the following activates for the overall development of students.
  • Guest Leactures by Judges, advocates and Leagl Lumenaries
  • Legal discourses by panel of Experts on Legal issues
  • Historical visit
  • PDP Classes